Hindustan24
उत्तर प्रदेशजौनपुर

जौनपुर ॥ करेंट की चपेट में आने से विक्षिप्त युवक की हुई मौत

Advertisement

अच्छेलाल राजभर संपादक हिन्दुस्तान 247

Advertisement

 

जौनपुर। सुरेरी थाना क्षेत्र के जामडीह गांव निवासी मनोज सिंह उर्फ बबलू व दिलीप सिंह का मुर्गा फार्म है। दोनों मुर्गा फार्म के बीच की दूरी लगभग 100 मीटर है। एक मुर्गा फार्म से दूसरे मुर्गा फार्म में बिजली की सप्लाई हेतु जमीन पर ही कटा हुआ तार फैलाया गया था। ग्रामीणों का आरोप है कि उस कटे हुए तार को बदलने के लिए कई बार मुर्गा फार्म के स्वामियों को कहा गया लेकिन उसके बाद भी वह तार नहीं बदला गया। मंगलवार की शाम लगभग 4:00 बजे गांव निवासी विक्षिप्त गुड्डू पुत्र शिव शंकर टहलते हुए मुर्गा फार्म की तरफ गया हुआ था और जमीन पर फैलाए गए कटे हुए तार की चपेट में आ गया और करंट लगते वह गंभीर रूप से झुलस गया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। विक्षिप्त युवक के मौत की सूचना लगते ही सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण उक्त मुर्गा फार्म पर इकट्ठा हो गए। वही मृतक के पिता शिव शंकर ने घटना की सूचना 112 नंबर पर दी। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस काफी मशक्कत करती रही लेकिन शव को कब्जे में नही ले सकी। खबर लिखे जाने तक पीड़ित परिवार द्वारा कोई लिखित सूचना नहीं दी गई थी। इस संदर्भ में थानाध्यक्ष सुरेरी राज नारायण चौरसिया ने बताया कि कोई लिखित तहरीर नहीं मिली है तहरीर मिलने पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

जौनपुर ॥ करेंट की चपेट में आने से विक्षिप्त युवक की हुई मौत

जौनपुर। सुरेरी थाना क्षेत्र के जामडीह गांव निवासी मनोज सिंह उर्फ बबलू व दिलीप सिंह का मुर्गा फार्म है। दोनों मुर्गा फार्म के बीच की दूरी लगभग 100 मीटर है। एक मुर्गा फार्म से दूसरे मुर्गा फार्म में बिजली की सप्लाई हेतु जमीन पर ही कटा हुआ तार फैलाया गया था। ग्रामीणों का आरोप है कि उस कटे हुए तार को बदलने के लिए कई बार मुर्गा फार्म के स्वामियों को कहा गया लेकिन उसके बाद भी वह तार नहीं बदला गया। मंगलवार की शाम लगभग 4:00 बजे गांव निवासी विक्षिप्त गुड्डू पुत्र शिव शंकर टहलते हुए मुर्गा फार्म की तरफ गया हुआ था और जमीन पर फैलाए गए कटे हुए तार की चपेट में आ गया और करंट लगते वह गंभीर रूप से झुलस गया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। विक्षिप्त युवक के मौत की सूचना लगते ही सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण उक्त मुर्गा फार्म पर इकट्ठा हो गए। वही मृतक के पिता शिव शंकर ने घटना की सूचना 112 नंबर पर दी। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस काफी मशक्कत करती रही लेकिन शव को कब्जे में नही ले सकी। खबर लिखे जाने तक पीड़ित परिवार द्वारा कोई लिखित सूचना नहीं दी गई थी। इस संदर्भ में थानाध्यक्ष सुरेरी राज नारायण चौरसिया ने बताया कि कोई लिखित तहरीर नहीं मिली है तहरीर मिलने पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

Related posts

महाराजा भर बिजली राजभर जी की “गरीब समाज सेवा समिति” द्वारा धूमधाम से मनाई गई जयंती

अच्छेलाल राजभर

test

डोभी हिंदू युवा वाहिनी की मासिक बैठक संपन्न हुई।

Leave a Comment